दिवाली पर्व पर राजाधिराज बाबा महाकाल का मनोरम दृश्य

॥ अनंत कोटी ब्रम्हांड नायक राजाधिराज योगीराज पर ब्रम्ह श्रीसच्चिदानंद सद्गुरु महाकालमहाराज की जय ||कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारम् भुजगेन्द्रहारम् ।सदावसन्तं हृदयारविन्देभवं भवानीसहितं नमामि॥ ॐ नमः शिवायः ||

कार्तिक मास की चतुर्दशी बुधवार तड़के श्री महाकालेश्वर भगवान को गर्म जल से स्नान करवाया गया। परंपरागत रूपचौदस लेकर फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा यानी होली तक नित्य महाकाल बाबा अब सुबह गर्म जल से स्नान करेंगे। दीपावली पर्व के अवसर पर सबसे पहले सुबह भस्मारती की गई। बाबा महाकाल को छप्पन पकावान के साथ अन्नकूट का महाभोग लगाया गया। बाबा महाकाल को छप्पन पकावान के साथ अन्नकूट का महाभोग लगाया गया। आरती के समय मंदिर में फुलझड़ी,अनार,चक्री छोड़ दीपावली पर्व का आगाज किया गया।